होश Hosh Lyrics in Hindi – Badshah, Aastha Gill

Hosh lyrics in Hindi sung by Badshah and Aastha Gill, written and music composed by Badshah.

Hosh song details

Hosh Lyrics in Hindi

इस नकली सी दुनियां में
ज़रा सा भी अब मेरा
मन ना लगे, मन ना लगे
प्यार इतना कर यार मेरे
मुझे कम ना लगे, कम ना लगे
गम इतना पी चुकी मुझे
अब कोई गम ना लगे, गम ना लगे
मुझमें आके मिल जा तू ऐसे
हम हम ना लगे, हम ना लगे
हूँ भीड़ में भी तनहा सी मैं
हूँ मैं अकेली सी
आके मुझे तू सुलझा दे
मैं एक पहेली सी
कोई जादू सा मुझपे चला दे
मुझे तारों की सैर करा दे
रह के होश में क्या ही करुँगी
आजा मेरे होश उड़ा दे
कोई जाम तू ऐसा पीला दे
मेरे खून में कुछ तू मिला दे
रह के होश में क्या ही करुँगी
आजा मेरे होश उड़ा दे
मेरे कान में आके कहती मुझे
एक तलब सी उठती रहती मुझे
मैं बेसबरी सी हो गयी हूँ
मैं बेकदरी सी हो गयी हूँ
मेरी आँखों में तू काजल भर दे
बरसूंगी मैं बादल कर दे
सुनने में आया तू पागल है
मुझको भी तू पागल कर दे
मेरी आँखों से आंसू गिरा दे
मुझे पूरी की पूरी हिला दे
रह के होश में क्या ही करुँगी
आजा मेरे होश उड़ा दे
कोई जाम तू ऐसा पीला दे
मेरे खून में कुछ तू मिला दे
रह के होश में क्या ही करुँगी
आजा मेरे होश उड़ा दे
इस मर्ज़ की दवाई चाहिए
तू रगों में समायी चाहिए
जहाँ जो लिखूं बस तेरा नाम लिखूं
ऐसी लिखने वाली स्याही चाहिए
खुदा है तो खुदाई चाहिए
या इस जिस्म से रिहाई चाहिए
तू है तो मैं हूँ यकीनन
नहीं तो मुझे इस वजूद की तबाही चाहिए

See also  Bulls Eye Lyrics - Tarsem Jassar - LyriCSToN

More Badshah Songs:
चमकीला चेहरा Chamkeela Chehra
गेंदा फूल Genda Phool
फ्लाई Fly
आवारा हैं हम Awaara
गर्मी Garmi
करलो रहम थोड़ा Mercy
बोलो हर हर Shivaay
काला चश्मा Kala Chashma
लेट्स नाचो Let’s Nacho
कर गयी चुल Kar Gayi Chull
आज रात का सीन Aaj Raat Ka Scene
डीजे वाले बाबू DJ Wale Babu
अभी तो पार्टी Abhi To Party Shuru Hui Hai

Hosh Lyrics in English

Iss nakli si duniya mein
Zara sa bhi ab mera
Mann na lage mann na lage
Pyar itna kar yaar mere
Mujhe kam na lage kam na lage
Gham itna pee chuki mujhe ab koyi
Gham na lage gham na lage
Mujhme aake mil ja tu aise
Hum hum na lage hum na lage
Hoon bheed mein bhi tanha si main
Hoon main akeli si
Aake mujhe tu suljha de
Main ek paheli si
Koyi jaadu sa mujhpe chala de
Mujhe taaron ki sair kara de
Rehke hosh mein kya hi karungi
Aaja mere hosh uda de
Koyi jaam tu aisa peela de
Mere khoon mein kuchh tu mila de
Rehke hosh mein kya hi karungi
Aaja mere hosh uda de
Mere kaan mein aake kehti mujhe
Ek talab si uthti rehti mujhe
Main besabri si ho gayi hoon
Main bekadri si ho gayi hoon
Meri aankhon mein tu kajal bhar de
Barsungi main baadal kar de
Sun’ne mein aaya tu paagal hai
Mujhko bhi tu paagal kar de
Mere aankhon se aansu gira de
Mujhe poori ki poori hila de
Rehke hosh mein kya hi karungi
Aaja mere hosh uda de
Koyi jaam tu aisa peela de
Mere khoon mein kuchh tu mila de
Rehke hosh mein kya hi karungi
Aaja mere hosh uda de
Is marz ki dawayi chahiye
Jo ragon mein samayi chahiye
Jahan jo likhun bas tera naam likhun
Aisi likhne wali syaahi chahiye
Khuda hai toh khudai chahiye
Ya iss jism se rihaai chahiye
Tu hai toh main hoon yakeenan
Nahi toh mujhe iss wajood ki
Tabaahi chahiye
See music video of Hosh song on Youtube.

Leave a Comment